सावधि जमा क्या होता है – What is Fixed Deposit in Hindi | HackVerses

What is Fixed Deposit in Hindi – भारत में सभी Banks, जिसमें SBI, PNB, BoB, BoI, Canara Bank, ICICI Bank, Yes Bank आदि शामिल हैं, ये सभी Banks 7 दिन से लेकर 10 सालों तक के कार्यकाल के लिए Fixed Deposit की Scheme Provide करते हैं। इस Account को प्रमुख रूप से Fixed Deposit (FD) Account के नाम से भी जाना जाता है जबकि कुछ अन्‍य देशों में इसे Term Deposit अथवा Bond के नाम से भी जाना जाता है।

What is Fixed Deposit in Hindi

वर्तमान में Fixed Deposit Scheme के अंतर्गत 7%-9% तक Interest दिया जाता है, इसलिए अब यदि आप अपनी Savings का FD करवाते हैं, तो आपके पैसे को दोगुना होने में कम से कम 8-10 साल तक का समय लग जाता है, जबकि कुछ सालों पहले यही ब्‍याज दर लगभग 15% थी, इसलिए मात्र 4-5 सालों में ही आपका FD Account में जमा धन दोगुना हो जाता था।

चूंकि किसी भी देश का Central Bank प्रतिवर्ष मुद्रास्‍फीति समायोजन (Inflation Adjustment) के कारण अपने देश की मुद्रा की कीमत में कमी करता है और महंगाई की वजह से सामान्‍यत: प्रतिवर्ष सभी देशों की मुद्राओं की कीमत में लगातार कमी ही होती है, इसलिए समय-समय पर हर देश का Central Bank विभिन्‍न प्रकार के Bank Accounts में जमा धन पर दिए जाने वाले ब्‍याज की दरों में कटौती करता है।

इसी वजह से वर्ष 2000 के आसपास जहां FD Account में जमा धन पर 15% सालाना चक्रवृद्धि की दर से ब्‍याज दिया जाता था, वहीं 2015 में FD Account में जमा धन पर लगभग मात्र 7% सालाना चक्रवृद्धि की दर से ही ब्‍याज दिया जाने लगा है और सम्‍भावना यही है कि जैसे-जैसे भारत विकसित होता जाएगा, आने वाले कुछ सालों में ये ब्‍याज दरें और घटेंगी क्‍योंकि अमरीका जैसे विकसित देशों में भी यही हुआ है और वर्तमान समय में वहांं के बैंकों के Saving Account में जमा धन पर कोई ब्‍याज नहीं मिलता, बल्कि बैंकों में धन को सुरक्षित रखने के बदले में बैंकों द्वारा Saving Account में जमा धन पर भी ब्‍याज वसूल किया जाता है।

यदि आपको ये जानना है कि आपके Fixed Deposit का Amount कितने साल में दोगुना हो जाएगा, तो इसके लिए एक बहुत ही साधारण सा नियम ये है कि Bank द्वारा आपके FD Account में जमा धन पर आपको जो भी Interest Rate दिया जा रहा है, उसका 72 में भाग दे दीजिए। जो परिणाम आएगा, उतने ही सालों में आपके FD Account में जमा धन दोगुना हो जाएगा।

उदाहरण के लिए यदि आपके Fixed Deposit पर आपको 8% Interest मिलता है, तो आपका धन 72/8 = 9 सालों में दोगुना हो जाएगा जबकि यदि आपको मिलने वाला Interest Rate 9% है, तो वही धन 72/9 = 8 साल में दोगुना हो जाएगा।

What is Fixed Deposit in Hindi

चूंकि हमारे देश में वर्तमान समय में Saving Bank A/c में जमा धन की तुलना में FD Account में जमा धन पर लगभग दुगुना ब्‍याज मिलता है, इसलिए यदि आपको लगता है कि आपके Saving Bank Account जो पैसे पड़े हैं, उनकी आपको निकट भविष्‍य में जरूरत नहीं है, तो उस पैसे को Saving Account में रखने के बजाय Fixed Deposit में डाल देंं, क्‍योंकि लगभग सभी Banks आपको Minimum 7 दिन तक के लिए Fixed Deposit करने की सुविधा देते हैं, जिसका ब्‍याज निश्चित रूप से Saving Account से ज्‍यादा होता है। साथ ही अपने Saving Account का पैसा FD Account में Deposit करने के लिए अब आपको बैंक जाने की भी जरूरत नहीं है क्‍योंकि लगभग सभी Banks आपको Internet Banking की सुविधा देते हैं, जिसके माध्‍यम से आप घर बैठे अपने Saving Account में जमा धन को Fixed Deposit Account में Transfer कर सकते हैं।

ऐसा जरूरी नहीं है कि आप Fixed Deposit केवल Bank में ही करें। यदि आप चाहेंं, तो Finance Company जिन्‍हे Financial Institution भी कहा जाता है, उनमे भी Fixed Deposit कर सकते हैं। Housing Finance Company होती है, उनमें भी FD कर सकते हैं और भी कई तरह की Private Companies, Fixed Deposit की Facility Provide करते हैं।

Company के Fixed Deposit पहले तो बहुत Popular थे, लेकिन आजकल काफी कम हो गए हैं क्‍योंकि अपने जमा धन पर अधिक Return प्राप्‍त करने के लिए अब बहुत सारे अन्‍य विकल्‍प मौजूद हैं। Bank और Financial Institution की FD में पैसा Deposit करते हैं, तो Interest तुलनात्‍मक रूप से कम मिलता है लेकिन Risk भी नहीं रहता क्‍योंकि सभी Banks भारत सरकार के अधीन हैं और किसी भी बैंक में जमा 1 लाख रूपए तक के धन की गारन्‍टी भारत सरकार देता है।

जबकि Housing Finance Company में बैंकों की तुलना में थोड़ा ज्‍यादा Interest मिलता है और Private Companies में Housing Finance Companies की तुलना में थोड़ा और अधिक Interest मिलता है, इसी अनुपात में Risk भी बढ़ जाता है। यानी जो Institution आपके FD पर RBI द्वारा निर्धारित Interest Rates की तुलना में जितना अधिक ब्‍याज देता है, आपके FD पर Risk भी उतना ही ज्‍यादा होता है।

चूंकि आप सामान्‍यत: अपने जमा धन की FD इसीलिए करवाते हैंं ताकि आपको उस पर कुछ Extra Return भी मिले और आपके धन की Safety भी बनी रहे, अत: यदि आपके लिए आपके धन की Safety, मिलने वाले 1% या 2% ज्‍यादा Interest की तुलना में अधिक महत्‍वपूर्ण है, तो उसे RBI द्वारा Listed Banks में ही Deposit करने पर प्राथमिकता दें। लेकिन इसका ये मतलब नहीं है कि हर Corporate Institute डूब ही जाते हैं, उनमें भी AAA Rating वाले या AA+ Rating वाले Institutions भी हैं, लेकिन बैंकों की तुलना में अधिक Risk तो होता ही है, इसीलिए तो वे आपको बैंकों की तुलना में ज्‍यादा Interest दे रहे हैं।

जब आप आप सालभर के लिए Fixed Deposit करते हैं और किसी कारणवश उसे छ: माह में ही Withdraw कर लेते हैं, तो उस स्थिति में आपको छ: महिने की FD से कम Interest मिलता है, क्‍योंकि FD को Maturity से पहले Break करने पर Bank उस पर कुछ Penalty Charge करता है। इसलिए यदि आपको ऐसा लगता है कि आपको छ: माह के बाद पैसो की जरूरत पड़ सकती है और आपके पास केवल 1,00,000/- हैं, तो आप 25,000/- के चार अलग-अलग Deposit करवा लेंं, ताकि यदि आपको Fixed Deposits, Maturity से पहले तोड़ने भी पड़ जाएें, तो सारे के सारे न तोड़ने पड़े।

What is Fixed Deposit in Hindi

एक बात और ध्‍यान में रखे कि यदि आप निश्चित न हो कि आपके Saving Bank Account में जो पैसे पड़े हैं, वो निकट भविष्‍य में काम आऐंगे या नहीं, तो भी यदि आप चाहे तो उसकी FD करवा लेंं और यदि आपको जरूरत हो तो आप अपनी उस FD के बदले 1% ज्‍यादा Interest उसी Bank से अपनी FD को गिरवी रखकर उस पर Loan भी ले सकते हैं, जिससे आपको Ultimately 1% का ही नुकसान होगा। यानी आपको Bank FD तोड़ने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

कुछ नए नियमों के अनुसार अब अलग-अलग Banks में Fixed Deposit की Interest Rates, Banks अपनी सुविधानुसार अलग-अलग तय कर सकते हैं, जबकि इससे पहले सभी Banks, Fixed Deposit पर RBI के Rules & Regulation के कारण एक समान Interest Rates ही देते थे। इसलिए वर्तमान समय में Private Sector और Foreign Bank, Fixed Deposit पर Higher Rate से Interest देते हैं।

अत: अपने धन की FD करवाने से पहले अपने आस-पास के विभिन्‍न बैंकों की Interest Rate का पता लगा लें और जो Bank सबसे ज्‍यादा ब्‍याज दे रहा हो, उसी में FD करवाऐं, भले ही ये अन्‍तर 0.25% का क्‍यों न हो क्‍योंकि Banks हमेंशा Compound Interest Charge करते हैं, जो कि लम्‍बी समयावधि में बहुत ही तेज गति से बढ़ता है।

लेकिन समस्‍या ये है कि आपको कैसे पता चले कि वर्तमान समय में कौनसे Bank के Fixed Deposit Account पर अधिक ब्‍याज मिल रहा है क्‍योंकि विभिन्‍न बैंकों में विभिन्‍न प्रकार के Bank Accounts पर दिए जाने वाले ब्‍याज की दरें (Interest Rate) समय-समय पर बदलती रहती हैं।आपकी इस समस्‍या का एक बहुत ही सरल समाधान है। आप CNBC Aawaz Business Channel द्वारा संचालित MoneyControl.com Website से भारत के विभिन्‍न बैंकों द्वारा उनके Fixed Deposit Account पर दी जाने वाली Interest Rate का पता लगा सकते हैं। साथ ही ये भी Calculate कर सकते हैं कि आप जितने Amount का Fixed Deposit करवाते हैं, उस पर कितने समय बाद आपको कितना Interest Return प्राप्‍त होगा।

तो यदि आपके Saving Account में कुछ ऐसा Free Cash पड़ा है, जिसकी निकट भविष्‍य में आपको कुछ विशेष जरूरत नहीं है, तो MoneyControl.com Website पर जाईए और अपने Saving Account में जमा Free Cash की, अपने आस-पास के किसी ऐसे नजदीकी बैंक में Fixed Deposit करवा दीजिए, जो आपको तुलनात्‍मक रूप से सर्वाधिक Interest दे रहा है।

क्‍योंकि अमीर बनने का एक ही रास्‍ता है कि धीरे-धीरे आपका बचाया हुआ पैसा भी आपके लिए काम करे, आपके लिए धनार्जन करे और आपके Saving Account में जमा आपका धन एक आलसी पुत्र के समान है जो कम Return Generate करता है। उसे Fixed Deposit Account में Deposit करके अधिक Return Generate करने के लिए प्रेरित कीजिए।

-Amit Sharma Raipur

Malik Mehrose
Malik Mehrose is a young entrepreneur, author, blogger, and self-taught developer from Jammu and Kashmir. He is the founder and CEO of SHOPYLL, His startup "SHOPYLL" has emerged a new shine to e-commerce business in Jammu and Kashmir, with a vision to boost the e-commerce ecosystem and to uplift industrialization in Jammu and Kashmir.