Mass Communication Career and Course Details in Hindi

Mass Communication Career and Course Details in Hindi – अगर आप अपनी लाइफ में कुछ अलग मुकाम हासिल करना चाहते है तो आपके लिए Journalism अथवा मास कम्युनिकेशन की फील्ड अच्छी साबित हो सकती है। भारतीय मीडिया इंडस्ट्री हर साल 13% की दर से Growth कर रही है जबकि पूरी दुनिया की मीडिया की ग्रोथ रेट सिर्फ 4.2% ही है। इस हिसाब से देखा जाएं तो भारत में मीडिया इंडस्ट्री का future काफी bright है। Journalism और मास कम्युनिकेशन की फील्ड में कोई कोर्स करके आप प्रिंट, रेडियो, वेब, एंटरटेनमेंट, public relation आदि से जुड़कर अपना करियर संवार सकते है। अगर आप चीजों को एक अलग ही नजरिये से देखते है और आपको writing में खास दिलचस्पी है तो Journalism और मास कम्युनिकेशन की फील्ड में जाकर आप न सिर्फ अच्छा करियर बना सकते है बल्कि नाम और पैसा भी कमा सकते है।

Qualification for Mass Communication योग्यता

  • बैचलर कोर्स के लिए- किसी भी विषय के साथ 12वीं पास
  • मास्टर्स कोर्स के लिए- किसी भी विषय में ग्रेजुएशन की डिग्री
  • डिप्लोमा कोर्सेस के लिए- ग्रेजुएशन की डिग्री
  • कुछकॉलेजों में प्रवेश लेने के लिए  Entrance Exam कराया जाता है

Journalism Main Courses:-

  1. BJMC (Bachelor of Journalism and Mass Communication) 3 years (Fees INR 50,000 to 1, 00,000)
  2. MJMC (Master of Journalism and Mass Communication) 2 years (Fees INR 50, 000 to 3 Lakh)
  3. PGDJMC (Post Graduate Diploma in Journalism and Mass Communication) 1 Year (Fees INR 1 Lakh to 3 Lakh)
  4. Diploma in Journalism and Mass Communication 2 years (Fees INR 90,000)
  5. PG Diploma in Broadcast Journalism 1 year (Fees 1.5 Lakh INR to 3 Lakh)
  6. PG Diploma in Mass Media 2 years
  7. MA (Journalism and Mass Communication) 2 Years

Admission Process: वैसे तो मास कॉम में एडमिशन के लिए अधिकतर इंस्टिट्यूट्स या यूनिवर्सिटी में एडमिशन टेस्ट होते हैं, जबकि कई जगह डायरेक्ट एडमिशन मिल जाता है। एडमिशन टेस्ट से हो या डायरेक्ट, इस कोर्स के लिए स्टूडेंट में कुछ बातें जरूर होनी चाहिए।

  1. जनरल नॉलेज और जनरल स्टडी मजबूत हो
  2. राइटिंग एबिलिटी हो।
  3. क्रिएटिव राइटिंग स्किल हो
  4. कॉमन एप्टिट्यूड हो
  5. लॉजिकल रीजनिंग होनी चाहिए
  6. राजनितिक पार्टियों का ज्ञान होना
  7. फिल्म काज्ञान होना
  8. जर्नलिज्म की जानकारी हो

Job after mass communication course:-

1.प्रिंट मीडिया: प्रिंट मीडिया Journalism की सबसे पुरानी फिल्ड है लेकिन फिर भी भारत में ये पहले की तरह ही लोकप्रिय है। पूरे देश में लगभग 70 हजार समाचार पत्र और मैगजीन कई भाषाओं में प्रकाशित होते है। आप मैगजीन या अखबार किसी के लिए भी काम कर सकते है.

2.इलेक्ट्रॉनिक मीडिया: इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का दायरा हर साल बढ़ रहा है हर साल कोई न कोई नया चैनल वजूद में आ रहा है. हमारे देश में हर भाषा में कई टेलीविजन चैनल मौजूद है. यहां पर हर साल कई नए प्रोफेशनल की जरूरत होती है.

3.वेब मीडिया: इंटरनेट और स्मार्टफोन ने Journalism का अंदाज ही बदल कर रख दिया है वेब मीडिया ने आम आदमी को प्लेटफॉर्म दिया है। हर साल सैकड़ो न्यज पोर्टल खुल रहे है जिनमें जॉब्स के कई मौके उपलब्ध है।

4.रेडियो: प्राइवेट एफएम चैनल के आने से इस क्षेत्र में रोजगार के कई अवसर उत्पन्न हुए है। अब हर बड़े शहर में आपको कई रेडियो चैनल सुनने को मिल जाएंगे। रेडियो का तीसरा फेज आने से इस फिल्ड में कई जॉब उपलब्ध हुए है।

5.पब्लिक रिलेशन: पब्लिक रिलेशन भी मीडिया इंडस्ट्री का ही हिस्सा है हालांकि यह Journalism से थोड़ा अलग जरूर है लेकिन इसकी पढ़ाई भी साथ में ही करवाई जाती है। अब हर कंपनी पब्लिक के बीच अपनी इमेज बनाने के लिए पब्लिक रिलेशन professionals को हायर कर रही है। अगर आप पब्लिक रिलेशन में काम करना चाहते है तो आपको Mass communication या Journalism के कोर्स के बाद आपको बिजनेस हाइउसेज, किसी पॉलिटिकल पर्सन, सेलेब्रिटी और पीआर एजेंसी में काम मिल सकता है।

  1. Sound Engineer
  2. Film Director
  3. Sound Mixer and Sound Recorder
  4. Producer
  5. Radio Jockey/ RJ
  6. Screenwriter
  7. Art Director
  8. Editor
  9. Event manager
  10. Video Jockey
  11. Fashion Photographer
  12. Cartoonist

सैलरी: अगर आप फ्रेशर्स के तौर पर इस फील्ड में आते है तो शुरूआती तौर पर 15 से 20 हजार रूपये महीने आसानी से पा सकते है। इसके अलावा इस फील्ड में 2 से 3 साल के अनुभव के बाद 50- 100 हजार रूपये महीने तक कमाएं जा सकते है।

Malik Mehrose
Malik Mehrose is a young entrepreneur, author, blogger, and self-taught developer from Jammu and Kashmir. He is the founder and CEO of SHOPYLL, His startup "SHOPYLL" has emerged a new shine to e-commerce business in Jammu and Kashmir, with a vision to boost the e-commerce ecosystem and to uplift industrialization in Jammu and Kashmir.