जानिए प्रॉपर्टी से जुड़े कानून – Janiye Property se Jude Kanoon – HackVerses

Janiye Property se Jude Kanoon – नई बन रही प्रॉपर्टी बुक करना कई बार फायदेमंद नजर नहीं आता। नया प्रोजेक्ट पूरा होने और अलॉटमेंट होने तक इंतजार करने का न समय होता है और न धैर्य। ऐसे में अगर आप तुरत-फुरत रहने के लिए कोई मकान, फ्लैट या कोई और प्रॉपर्टी रीसेल में खरीदना चाहते हैं तो इन बातों पर जरूर गौर करें:

Janiye Property se Jude Kanoon

कैश या चेक – Cash or Cheque

देश के रियल एस्टेट सेक्टर की हकीकत यह है कि कुछ शहरों में प्रॉपर्टी बेचने वाला व्यक्ति चेक से पेमेंट लेने की बजाय कैश लेना चाहता है। वजह साफ है, वह प्रॉपर्टी बेचने से हुई आमदनी पर कोई टैक्स नहीं चुकाना चाहता। आप जहां प्रॉपर्टी लेना चाहते हैं, वहां पेमेंट को लेकर क्या स्थिति है, जल्दी से जान लीजिए। कहीं भुगतान करते वक्त आपको निराश न होना पड़े।

प्रॉपर्टी पर कुछ बकाया न हो – No Dues on Property

रीसेल प्रॉपर्टी खरीदने से पहले यह देख लेना जरूरी है कि विक्रेता ने प्रॉपर्टी टैक्स, पानी का बिल, सोसायटी के मेंटेनेंस चार्जेस और बिजली बिल आदि का भुगतान किया है या नहीं। अगर भुगतान नहीं हुआ हो तो प्रॉपर्टी आपके नाम पर ट्रांसफर होने के बाद सारी देनदारियां आपको चुकानी होंगी।

रिपेयर की लागत – Cost of Repairs

प्रॉपर्टी के स्ट्रक्चर में हुई टूट-फूट को देखते हुए कई बार आपको इसमें सुधार और रंग-रोगन की जरूरत होती है। जब आप सेकेंड हैंड फ्लैट या मकान खरीदते हैं तो आपको खरीद की कुल लागत में इस खर्च को भी शामिल करना होता है। इस लागत को देखते हुए ही अपना बजट प्लान करें।

सर्वेयर की फीस – Surveyor’s fees

जब भी आप रीसेल प्रॉपर्टी खरीदते हैं तो किसी स्ट्रक्चरल इंजीनियर की तरफ से इसका सर्वे करवा लेने की सलाह दी जाती है। इससे प्रॉपर्टी की बुनियाद और उसकी सही हालत का पता लग जाता है। यह पक्का करना जरूरी है कि आपको कोई सिविल वर्क तो नहीं करवाना पड़ेगा। यदि लोन लेकर प्रॉपर्टी खरीद रहे हैं तो आपका फाइनेंसर चाहेगा कि आप यह सर्वे जरूर करवा लें। ध्यान रखें कि इसकी फीस आपको ही चुकानी पड़ेगी।

ब्रोकर का कमीशन – Broker commissions

रीसेल प्रॉपर्टी के सौदे में बेचने और खरीदने वाले पक्ष के ब्रोकर होते हैं। खरीददार के रूप में आप जो सेवाएं अपने ब्रोकर से हासिल कर रहे हैं, उनके बदले आपको उसे कमीशन देना होगा। लोकल मार्केट से आपको इसके रेट पता कर लेने चाहिए। सारी कागजी कार्रवाई पूरी होने के बाद ही आप कमीशन का भुगतान कीजिए। प्रॉपर्टी के रजिस्ट्रेशन में भी आपको ब्रोकर से पूरी मदद की उम्मीद करनी चाहिए।

ओरिजनल दस्तावेज – Orginal Documents

सौदा पूरा होने से पहले जब प्रॉपर्टी खरीदने के लिए बातचीत हो रही हो, तब आपको प्रॉपर्टी से संबंधित मूल दस्तावेज यानी ओरिजनल डॉक्युमेंट्स देखने के लिए मांगना चाहिए। यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि जिस व्यक्ति से आप प्रॉपर्टी खरीद रहे हैं, उसके पास प्रॉपर्टी का मालिकाना हक है या नहीं। अगर वह प्रॉपर्टी लोन लेकर खरीदी गई है तो बैंक के पास ओरिजनल टाइटल डॉक्युमेंट्स होंगे और आप उन्हें देखने के लिए बैंक से कह सकते हैं या आप बैंक के साथ हुई कागजी कार्रवाई को भी देख सकते हैं।

प्रॉपर्टी का रजिस्ट्रेशन – Registration of Property

प्रॉपर्टी खरीदने के तुरंत बाद उसका पंजीयन यानी रजिस्ट्रेशन करवाएं। इससे यह पक्का हो सकेगा कि प्रॉपर्टी कानूनन आपके नाम हो चुकी है। रजिस्ट्रेशन के जरिए आप अपने अधिकारों की रक्षा कर सकते हैं। यदि आप लोन लेकर रीसेल प्रॉपर्टी खरीद रहे हैं तो बैंक आपसे ओरिजनल रजिस्ट्रेशन डॉक्युमेंट्स ले लेगा और जब आप लोन का पूरा भुगतान कर देंगे, उसके बाद वह दस्तावेज आपको लौटा दिए जाएंगे।

कानूनी औपचारिकताएं – Legal formalities

Janiye Property se Jude Kanoon – रीसेल प्रॉपर्टी की खरीद से संबंधित कानूनी मसलों को समझने के लिए बेहतर है आप किसी प्रॉपर्टी वकील से मदद लें। प्रॉपर्टी से संबंधित मामलों के अनुभवी वकील आपको तुरंत बता देते हैं कि जिस प्रॉपर्टी को आप रीसेल में खरीदने जा रहे हैं, वह किसी झमेले में तो नहीं फंसी है। वकील आपको यह भी बता देगा कि कहीं यह प्रॉपर्टी किसी भी रूप में गिरवी तो नहीं रखी गई है या कहीं इसकी जमानत तो नहीं दी गई है। रीसेल प्रॉपर्टी जमानत या गिरवी रखी होने पर विक्रेता के लिए तुरंत सौदा करना संभव नहीं हो पाता है।

वकील से सलाह लेने पर आपके समय की काफी बचत होती है और आप तुरंत यह जान लेते हैं कि वह प्रॉपर्टी आपको खरीदनी है या नहीं, जिसे आप खरीदना चाहते हैं। वकील आपको यह भी बता सकता है कि उस प्रॉपर्टी पर किसी और का अधिकार तो नहीं है। आप कभी नहीं चाहेंगे कि सौदा पूरा होने पर आपको उन बातों का पता चले, जो आपको सौदे की शुरुआत में ही मालूम होनी चाहिए थी, इसलिए भी वकील की मदद जरूरी है।

पडोसियों के बारे में जानें – Know about Neighbors

Janiye Property se Jude Kanoon – जहां आप प्रॉपर्टी खरीद कर रहना चाहते हैं, क्या आप उसके आस-पास के इलाके का अच्छी तरह मुआयना कर चुके हैं? आपको कैसा लगेगा अगर आप जिस जगह प्रॉपर्टी खरीदने वाले हैं, उसके आस-पास कोई ऐसा भीड़भाड़ वाला बाजार हो, जिसमें ट्रैफिक जाम की वजह से हमेशा अफरा-तफरी रहती है? यदि प्रॉपर्टी के ठीक सामने कोई स्कूल है और सुबह-शाम बसों की भीड़ की वजह से रास्ता ब्लॉक हो जाए तो क्या आप ऐसी स्थिति में भी सहज महसूस करेंगे?

आपको यह भी देख लेना चाहिए कि कहीं आस-पास कोई सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट तो नहीं है, जिसकी बदबू आपको परेशान करे। और जब आप वहां रहने जाएं, तब वहां खराब वातावरण झेलना पड़े। आप जहां प्रॉपर्टी का सौदा करने जा रहे हैं, उसके आस-पड़ोस के लोगों के बारे में जानने की कोशिश करें। यह देखें कि किस तरह के लोगों के साथ आप अपनी जिंदगी गुजारने वाले हैं। आस-पड़ोस को भली-भांति समझने के बाद ही प्रॉपर्टी खरीदने का फैसला करें।

साझा बिल – Share Bill

Janiye Property se Jude Kanoon – अगर आप किसी मल्टी-यूनिट बिल्डिंग में फ्लैट खरीद रहे हैं तो आपको यह समझना होगा कि किन बिलों का भुगतान दूसरे लोगों के साथ मिल कर करने वाले हैं। क्या आपको सिक्योरिटी, मेंटेनेंस, जनरेटर और सोसायटी से जुड़ी फीस चुकानी है? या आपको स्टाफ के लिए सालाना टिप भी चुकानी है? क्या सोसायटी के लोगों के साथ आपको बिजली का बिल भी साझा करना है? आपको यह भी देखना है कि अपनी गाड़ियों की पार्किग के लिए कितनी जगह मिल रही है। यह भी सुनिश्चित करें कि घरेलू काम करने वाले नौकरों के लिए रहने की जगह है या नहीं। क्या इसके लिए भी कोई साझी सुविधा है? प्रॉपर्टी का सौदा करने के बाद सदमा न लगे, इसलिए इन सारी बातों का आपको पहले से ही अंदाजा होना जरूरी है, ताकि प्रॉपर्टी खरीदने का सारा मजा किरकिरा न हो जाए।

Malik Mehrose
Malik Mehrose is a young entrepreneur, author, blogger, and self-taught developer from Jammu and Kashmir. He is the founder and CEO of SHOPYLL, His startup "SHOPYLL" has emerged a new shine to e-commerce business in Jammu and Kashmir, with a vision to boost the e-commerce ecosystem and to uplift industrialization in Jammu and Kashmir.