गर्भपात करने के घरेलु उपाय – Home remedies for abortion in Hindi

Home remedies for abortion in Hindi – माँ बनने का एहसास बहुत ख़ास होता है. जिसकी ख़ुशी के आगे दुनिया की हर ख़ुशी फीकी लगती है, लेकिन अगर आप उस टाइम प्रेग्नेंट हो जाएँ जब आप माँ बनने के लिए तैयार ही ना हो यानि बिना फॅमिली प्लानिंग के. तब आपके दिल दिमाग में ख़ुशी, उत्साह के बजाय घबराहट, बेचैनी और डर हावी हो जाता है.

 Home remedies for abortion

Home remedies for abortion – गर्भपात करने के कई वजहें हो सकती हैं. कई बार ऐसा होता है कि संभोग के दौरान प्रेमी प्रेमिका या पति पत्नी गर्भ निरोधक तरीकों का प्रयोग करना भूल जाते हैं, जिससे गर्भ ठहर जाता है. कई बार पति के चाहते हुए भी पत्नी बच्चा पैदा नहीं करना चाहती क्यूंकि वह अपने शरीर को मेन्टेन रखना चाहती हैं, कई बार महिला की anatomical position माँ बनने के लिए capable नहीं होती. इस तरह के कई कारण हो सकते है. शादी-शुदा या धनी महिलाएं तो अस्पतालों में जाकर एबॉर्शन करवा लेती हैं पर गरीब या कुंवारी लड़कियों के लिए जिन्हें इस बात को सबसे छिपाना भी होता है, उनके लिए ये बात मुसीबत का कारण बन जाती है.

गर्भपात का मतलब होता है माँ के गर्भवती होने के 24 हफ्ते के अंदर ही गर्भ में भ्रूण का नष्ट होना. इसके 2 लेवल होते है. 

  1. Early abortion:अगर गर्भपात माँ के गर्भवती होने के 12 हफ़्तों के भीतर हो तो उसे Early abortion कहते है.
  2. Subsequent abortion:यदि एबॉर्शन 13 से 24 हफ़्तों के बीच होता है तो उसे Subsequent abortion कहा जाता है.

तो अब हम जानेंगे गर्भपात करने में मदद करने वाली उन चीजों के बारे में जो हमारे घर में मौजूद होती हैं.

1.विटामिन सी: यूँ तो विटामिन सी किसी भी इंसान के लिए काफी अहम होता है, क्योंकि यह विटामिन आपके शरीर की इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत करता है. लकिन नैचुरली एबॉर्शन करने के लिए बहुत ज्यादा विटामिन सी का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है. ऐसा माना जाता है कि बहुत ज्यादा क्वांटिटी में विटामिन सी का सेवन करने से खुद बखुद गर्भपात हो जाता है. अगर आप विटामिन सी वाले फल और खासकर आवंला का सेवन प्रचूर मात्रा में करें तो गर्भपात होने की पूरी संभावना है.

2.पुदीना: पुदीने का तेल या पुदीने की चाय को प्रतिदिन 3 से 4 बार लेने से माहिला खुद को थका हुआ और चिडचिडापन महसूस करती है, साथ ही इससे इन्हें पसीना भी बहुत आता है. और ये सभी Factor स्त्री के गर्भपात को बढ़ावा देते है.

3.वर्कआउट: गर्भ गिराने की कोशिश में आपको जरूरी नहीं की बस खाना ही पड़े.जी हाँ आप खूब जमकर उछल-कूद और एक्सरसाइज करें ये भी आपको गर्भ गिराने में मदद करेंगे.

4.पपीता और अनानास: गर्भपात के लिए पपीते के बारे में आप सभी ने सुना होगा. क्योकि हर गर्भवती स्त्री को ये सलाह दी जाती है कि वो पपीते से दूर रहे वर्ना उन्हें गर्भ से जुडी समस्या हो सकती है, पर आपको तो एबॉर्शन करवाना है तो आप जितना हो सके पपीता और अनानास खायें. और इसका एक फायदा यह भी है कि इससे पीरियड्स भी जल्दी आते है. इन दोनों में पाया जाने वाला रसायन जिसे पपेन कहा जाता है वह गर्भपात को बढ़ावा देता है.

5.ग्रीन टी: ग्रीन टी या हरी चाय से शरीर को कई फायदे होते हैं, जैसे कि वजन कम करना, शरीर को चुस्त रखना, दिल को स्वस्थ रखना आदि. लेकिन अगर इसका ज्यादा सेवन कर लिए जाये तो ये शरीर के लिए समस्या भी उत्पन्न कर सकता है. खासतौर पर गर्भवती स्त्रियों के लिए. इसीलिए इसके पैकेट पर भी लिखा होता है कि गर्भवती स्त्री इसका सेवन न करें. पर आपको तो करना है एबॉर्शन तो आप करें इसका भरपूर इस्तेमाल.

6.बबूल के पत्ते: बबूल के पत्तो का उपयोग करके भी आप अनचाहे गर्भ को घर में गिरा सकते हैं, इसके लिए आप दो ग्राम बबूल के पत्ते ले और उनके दो कप पानी में अच्छे से उबालें, इसके बाद इसका सेवन तब करें, जब यह आधा रह जाएँ, और इनका सेवन आप जब तक करते रहें जब तक की गर्भ गिर नहीं जाता हैं.

7.कटहल: यदि आपका गर्भ ठहर गया हैं और आप गर्भपात करना चाहती हैं. तो कटहल आपके लिए लाभकारी सिद्ध हो सकता हैं, कटहल एक सब्ज़ी हैं जब भी आपका अनचाहा गर्भ ठहर जाये तो आपको कटहल का जितना हो सके उतना सेवन करना चाहिए. इससे गर्भपात में मदद मिलती हैं|और आप जब तक इसका प्रयोग करें जब तक की गर्भ न गिर जाएँ.

Read Also: पीरियड्स लेट होने के कारण?

Malik Mehrose
Malik Mehrose is a young entrepreneur, author, blogger, and self-taught developer from Jammu and Kashmir. He is the founder and CEO of SHOPYLL, His startup "SHOPYLL" has emerged a new shine to e-commerce business in Jammu and Kashmir, with a vision to boost the e-commerce ecosystem and to uplift industrialization in Jammu and Kashmir.