तलाक के कारण, नुकसान और समाधान – Divorce Losses and Solutions Hindi

तलाक के कारण, नुकसान और समाधान – Divorce Losses and Solutions Hindi

Divorce Losses and Solutions Hindi

Divorce Losses and Solutions Hindi – आज के समय में ऐसे लगता हैं की तलाक एक परंपरा बन कर रह गयी हैं| छोटी-छोटी बात पर आज के समय में रिश्ता टूटने की कगार पर आ जाता हैं| तलाक के बहुत से कारण हो सकते हैं| और शुरुआत में आपको अपने रिश्ते में बहुत सी परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता हैं| परंतु इसका मतलब ये नहीं हैं की आप तलाक जैसा बड़ा कदम उठा ले| आपको एक दूसरे को समझने की कोशिश करनी चाहिए| एक दूसरे को मौका देना चाहिए|

शादी जैसा बड़ा रिश्ता कभी भी किसी एक व्यक्ति पर निर्भर नहीं करता हैं| बल्कि इसमें पति और पत्नी दोनों का ही बराबर योगदान होना जरुरी होता हैं| तलाक की नौबत आज के समय में लव मैरिज में भी आ जाती हैं| इसका सबसे बड़ा कारण हैं की आज के लोगो में धैर्य की कमी हैं| शादी के रिश्ते को पहले बहुत पवित्र माना जाता था| पति-पत्‍नी दोनों ही एक दूसरे के साथ सात जन्‍मों के साथ की कामना करते थे| तो आइये जानते हैं तलाक के क्या-क्या कारण हो सकते हैं|

तलाक के कारण – Talaaq ke Karan

Divorce Losses and Solutions Hindi – तलाक के बहुत से कारण हो सकते हैं और वो पति-पत्नी दोनों से ही सम्बंधित हो सकते हैं| शादी करने में जितना समय लगता हैं उतना आज के समय तलाक में नहीं लगता हैं| इस दौर के भारतीय समाज में तलाक के मामले में इसलिए तेजी से बढ़े हैं, क्‍योंकि नई जनरेशन में एक दूसरे पर विश्‍वास ही नहीं रह गया| आइये जानते हैं की तलाक के मुख्य कारण क्या-क्या हो सकते हैं|

  • पति-पत्नी को एकदूसरे का व्यवहार पसंद न आना| मतलब एक दूसरे की सोच का न मिलना|
  • दोनों में से किसी एक के भी घर वालों की दखलंदाजी तथा उनके हर मामले को लेकर राय देने के कारण भी तलाक की नौबत आ जाती हैं|
  • दोनों या किसी एक को छोटी-छोटी बातों पर भी गुस्सा आना, और छोटी-छोटी बातो पर बहस होने के कारण भी ये समस्या आजाती हैं|
  • अहम का टकराव होने के कारण, क्योकि आज के समय में लोगो की सोच में काफी हद तक बदलाव आया हैं|
  • अच्छे संस्कारों की कमी होने के कारण भी ये समस्या आ सकती हैं|
  • रिश्तों को दिमाग से तोलना कभी भी रिश्तो को समझने के लिए दिल का इस्तेमाल न करना|
  • कई बार लड़की या लड़का एकदूसरे का चेहरा या बाहरी दिखावा देख कर आकर्षित हो जाते हैं| परंतु शादी होते ही एकदूसरे का व्यवहार सामने आने पर लड़ाई झगड़ा शुरू हो जाता है|
  • कुछ लड़कियां शादी के बाद तलाक को कमाई का साधन भी बना लेती हैं|
  • आजकल के लड़के लड़कियां प्रेम किसी और से करते हैं| पर कई बार घर वालों के डर से शादी किसी और से कर लेते हैं| और फिर उन्हें उस रिश्ते में घुटन होने लग जाती हैं| और फिर वो एक-दूसरे को तलाक देने के लिए भने ढूंढने लगते हैं|
  • पति-पत्‍नी के बीच प्रॉपर्टी का झगड़ा होने कारण मतलब की आज-कल पैसे के लिए भी तलाक देना शुरू कर देते हैं| और पिछले कुछ दिनों में ये तलाक का बड़ा कारण बना है|
  • तलाक का बड़ा कारण कई बार छोटे बच्‍चे की जिम्‍मेदारी भी होती हैं, क्योकि काम करने वाली महिलाये जब बच्चे को संभालती हैं, तो कही न कही उनकी सोच के बीच टकराव हो जाता हैं|
  • आज के समय में लोग अपने शादी-शुदा रिश्ते से बहुत जल्दी बोर भी हो जाते हैं| और नए साथी की तलाश करने लगते हैं|

तलाक से होने वाले नुक्सान : Divorce Losses and Solutions Hindi

Divorce Losses and Solutions Hindi – तलाक के बाद नया रिश्ता कायम करने में बहुत समय लग जाता हैं| और फिर आपको अपनी नयी जिंदगी को बसाने में बहुत समय लग जाता हैं, और आपको कई बार आपको बहुत से समझौते करने पड़ते हैं| तो आइये जानते हैं तलाक से होने वाले क्या-क्या नुक्सान होते हैं|

  • पहली शादी में जैसा पति या पत्नी मिलती है दूसरी शादी में वैसा ही पति या पत्नी मिले यह जरूरी नहीं| और पहली शादी में आप थोड़े-बहुत बदलाव लाने के लिए तैयार भी होते हैं, परंतु दूसरी शादी में आपको ये सब करने में बहुत परेशानी होती हैं|
  • उसके बाद यदि आप दूसरी शादी करते हैं तो कोई न कोई समझौता करना ही पड़ता है, क्योंकि आप जैसा चाहते हैं शायद उससे कई ज्यादा अलग आपको मिलता हैं|
  • पहला रिश्ता बहुत सोचसमझ कर किया जाता है, उसमे हर तरह की छानबीन की जाती हैं, परिवार के सभी सदस्यो को परख जाता हैं| इसलिए समाज में थोड़ी मानप्रतिष्ठा बढ़ जाती है| ऐसा दूसरी बार नहीं मिल पाता, घरवाले भी कह देते हैं जो मिल रहा हैं कर देते हैं|
  • तलाक के बाद लोगो की नज़रो में वो सम्मान नहीं मिल पाता जो पहले मिलता हैं|
  • यदि आप तलाक लेकर दूसरी शादी करते हैं तो दूसरी शादी में जो लड़की या लड़का होता है वह ज्यादातर उम्मीद से कम ही होता है|
  • रिश्ता टूटने पर बहुत दुख भी होता है और यह बात वही जानता है जिस का रिश्ता टूटता है|
  • यदि आपके बच्चे होते हैं तो बच्चो की जिदगी भी पूरी तरह से ख़राब हो जाती हैं|

तलाक से समाधान : Divorce Losses and Solutions Hindi

Divorce Losses and Solutions Hindi – तलाक की समस्या को सुलझाने के लिए भी बहुत सारे समाधान हैं| पर जरुरी हैं की आप इस समस्या के समाधान के लिए अपने अंदर थोड़ा बदलाव लाएं, जैसे ही आप दोनों अपने अंदर एक दूसरे के लिए भावना रखते हैं उसे एक दूसरे पर जाहिर करे, इसके आलावा अन्य समाधान तलाक के लिए इस प्रकार हैं|

  • शादी के बाद सबसे जरुरी हैं की आप एक-दूसरे के प्रति विश्वास को बनाएं रखे| और यदि आप एक-दूर पाए विश्वास करते हैं तो आपको कभी तलाक की नौबत ही नहीं आ सकती|
  • तलाक की नौबत न आये इसीलिए कोशिश करे एक -दूसरे को समझने की, और एक दूसरे की सोच का आदर करने की|
  • शादी के अनमोल रिश्ते को बनाएं रखने के लिए करे एक-दूसरे की भावनाओ का सम्मान, और हर एक बात को महत्व दे|
  • किसी तीसरे की दख़लअंदाज़ी या फिर उसकी बातो पर विश्वास करके न करे अपने घर में लड़ाई झगडे|
  • यदि आपकी बीवी बाहर काम करती हैं तो ऐसे में पत्नी के काम को भी सम्मान दे, उनकी सराहना करे|
  • कभी भी अपनी राय को एक-दूसरे के ऊपर न थोपे|
  • एक दूसरे को समय दे, और कुछ अच्छा समय साथ बिताएं, जिसमे अपनी सभी बातो को शेयर करे|
  • एक दूसरे के प्रति मन में कभी भी शक को जगह न दे|
  • शादी के रिश्ते को तलाक से बचाने के लिए कभी भी अपनी जिम्मेवारी से मुँह न मोडे|
  • कभी भी अपने साथी को नीचा न दिखाएँ, हमेशा उन्हें प्राथमिकता दे|

तो ये कुछ बाते हैं जो तलाक को बढ़ावा देती हैं. तलाक के कारण माँ-बाप समाज से नजर नहीं मिला पाते हैं| परंतु हम आपको ये भी नहीं कह रहे हैं की यदि आपका पति आपको मरता पीटता हैं, शराब पीकर आपको परेशान करता हैं, आपके बच्चो के साथ दुर्व्यवहार करता हैं| और इस बारे में अपने माता-पिता या फिर अपने बड़ो से चर्चा करे| और इस बारे में सोचे, और समझे फिर किसी निष्कर्ष पर पहुचे, क्योंकि ये आपके जीवन का सबसे अहम फैसला होता हैं| जिससे की आपको इस समस्या से छुटकारा मिल सके|

आप इस टॉपिक को जरूर पड़े, और इसके बारे में अपनी राय व्यक्त करे, आपकी राय हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं, यदि आपको ये टॉपिक पसंद आये तो इसे शेयर करे|

Read Also :-

Malik Mehrose
Malik Mehrose is a young entrepreneur, author, blogger, and self-taught developer from Jammu and Kashmir. He is the founder and CEO of SHOPYLL, His startup "SHOPYLL" has emerged a new shine to e-commerce business in Jammu and Kashmir, with a vision to boost the e-commerce ecosystem and to uplift industrialization in Jammu and Kashmir.